ग्राम पंचायत बेलकोना के असलम सचिव बने R E S विभाग के ठेकेदार

बलरामपुर संवाददाता – युसूफ खान

चेक डैम के नाम पर मुंशी के द्वारा फर्जी मास्टर रोल भरकर किया जा रहा है बंदर बाँट

बलरामपुर जिले के शंकरगढ़ आदिवासी अंचल में आए दिन बड़े-बड़े कारनामों का खुलासा मीडिया के द्वारा किया चुका है। पर ऐसे मामले पर प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा कार्यवाही तो की गई है लेकिन कोई ठोस कार्यवाही न होने के कारण निर्माण कार्यो मे बड़े-बड़े कारनामे दिन प्रतिदिन इस शंकरगढ़ ब्लाक की पंचायतो में होते जा रहे हैं जो अपने आप में अचंभा दिखाई देते हैं। कुछ ऐसा ही मामला ग्राम पंचायत शंकरगढ़ में देखने को मिल रहा जहां लाखो रूपए खर्च कर जेसीबी से चेक डेम की खुदाई कर अजाक्स मशीन से मनरेगा योजना का काम मशीनों से हो गया है जो की बेहद ही घटिया सामग्री से हुवा है

गुणवत्ता में भी हुई अनदेखी

बता दें कि जैसे ही यह काम RES विभाग से स्वीकृत हुआ और काम काफी तेजी के साथ स्टॉप डैम तैयार कर दिया गया जिसमें लोगों के द्वारा आपत्ति जताई जा रही है कि कार्य गुणवत्ता युक्त नहीं है। इसकी भी यदि जांच की जाए तो टेक्निकल खुला से हो सकते हैं।

क्या कहते बेलकोना सरपंच जसीनता पैकरा

ग्राम पंचायत बेलकोना के डूमर पानी में एक से डेढ़ फीट के फाउंडेशन पर चेक डैम का पूरा स्ट्रक्चर तैयार कर दिया गया जो की निहायत ही गुणवत्ताहीन है जब हमने सरपंच से जब बात करनी चाहिए तो उनके द्वारा यह प्रतिक्रिया दिया गया कि काम तो गुणवत्ताहीन हो रहा है इसकी जानकारी ग्राम के लोगों ने भी मुझे दी है लेकिन मेरे लाख मना करने के बावजूद भी कार्य चल रहा है

क्या कहते हैं R E S विभाग के एसडीओ

आर्यस विभाग के एसडीओ सोनी सर से जब हमने बात करना चाहा तो उनका कहना था कि हम अभी मीटिंग पर हैं और हम बात नहीं कर सकते यह कह कर पत्रकार साथियों का नंबर ब्लैक लिस्ट में डाल देते हैं साथ ही अविनाश इंजीनियर से जब हमारी बात हुई तो उनके द्वारा कहा गया कि हम लगातार ही काम की गुणवत्ता को चेक कर रहे हैं

क्या कहते हैं ग्रामीण

ग्रामीणों का कहना है कि असलम सचिव और एसडीओ के मिली भगत से शासन के पैसों का उपयोग कर फर्जी मास्टर रोल बाहर कर और ग्राम के लोगों को कर रहे हैं सरकारी पैसे का बंदर बांट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *