अधिकारी ठेकेदार मस्त, ग्रामीण और आम नागरिक त्रस्त

जांजगीर-चांपा संवाददाता – राजेन्द्र जायसवाल

पीएचई विभाग में भ्रष्टाचार चरम पर कही ठेकेदार ने नल कनेक्शन का काम किया अधूरा, तो कहीं टंकी लीकेज तो कहीं सफेद हाथी सिद्ध हो रहा टंकी

जांजगीर चांपा। चांपा तहसील क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत सिवनी में इन दिनों जल जीवन मिशन के तहत हर घर मुफ्त नल कनेक्शन देने की सरकार की योजना ठेकेदार एवं अधिकारियों की लापरवाही और उदासीनता के कारण साकार नहीं हो पा रही है। आलम यह है कि जिन घरों में नल कनेक्शन लगाए गए हैं उनमें अधिकांश में पानी आना तो दूर पानी की बूंद तक नहीं टपक रही है और जिनमें पानी आ भी रहा है तो उसकी धार इतनी कम है कि बाल्टी भरने में काफी समय लग रहा है। पानी की यह समस्या चिलचिलाती धूप एवं लू के बीच और भी ज्यादा विकराल हो गई है। इसे लेकर ग्रामवासी परेशान है तथा उन्हें पानी के लिए भटकना पड़ रहा है। ग्रामवासी पूछ रहे हैं कि सरकार ने मुफ्त का नल तो लगवा दिया है पर इस नल में जल कब आएगा। बलौदा जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम सिवनी में ग्रामीण जल जीवन मिशन की कार्यालय पौने 2 साल बाद भी नल लगाने कार्यपालन अभियंता लोक स्वासस्य यांत्रिकी स्खण्ड का काम पूरा नहीं हो पाया है। इस दौरान एक ठेकेदार काम छोडकर भाग गया है। दूसरा ठेकेदार जांजगीर का है जिसने अभी तक अपना काम अधूरा छोड़ रखा है। इस मामले में संबंधित विभाग के अधिकारी भी किसी तरह की संज्ञान नहीं ले रहे हैं। इस मामले की शिकायत कई बार पीएच विभाग के अधिकारियों से की गई लेकिन किसी तरह का उन्होंने संज्ञान नहीं लिया। ठेकेदार समय में अपना कार्य नहीं किया और कई घरों में तो कनेक्शन तक ही नहीं लगाया गया, वही एक वाक्य चांपा शहर के पास स्थित ग्राम पंचायत कुरदा का है जहां पानी टंकी का निर्माण तो कराया गया है परंतु वह भी भ्रष्टाचार के भेंट चढ़ गई है संबंधित अधिकारी अपनी मोटी कमिश्नर से खुश है तो वहीं ठेकेदार ईशतरहीनकार्य कर कर खुश है इसी तरह का वाक्य बलौदा विकासखंड के ग्राम पंचायत कंडरा में देखा जा सकता है वहां भी जल जीवन मिशन के तहत बनाएगा टंकी का हाल बेहाल है पानी का रिसाव लगातार टंकी से हो

रहा है एक तरफ जनता को लग रहा था कि डबल इंजन की सरकार बनने से उन्हें बहुत अधिक तक योजनाओं का लाभ मिलेगा परंतु ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों के चलते योजनाएं सिर्फ कागजों तक सिमटकर रह जाती है ऐसा ही है ताजा वाकया पामगढ़ जनपद के अंतर्गत भदरा का है जहां ठेकेदार ने टंकी तो बना दी है परंतु आज तक इससे पानी सप्लाई नहीं हुआ है इन सभी वाक्य को देखते हुए यह लगता है कि इन भ्रष्टाचारियों पर उनके आकाओ का पूर्ण रूप से संरक्षण प्राप्त है नहीं तो अधिकारी कर्मचारी व ठेकेदार पर कार्रवाई

होती तो इस तरह का कृत्य करने से वह डरते इसके लिए तो जिला प्रशासन को ऐसे ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट कर देना चाहिए। जिन घरों में नल लगाए गए हैं, उनमें आधिकांश की टोटियां सूखी पड़ी हैं। यहां ठेकेदार ने पीएचई से बिल पास कराने लोगों से आधार कार्ड लेकर उनके घरों के सामने आनन फानन में प्लेटफार्म बनवाकर नल लगवा दिया है तो कई घरों के सामने में सिर्फ कनेक्शन पाइप लाकर छोड़ दिया है।

आपसे मुझे जानकारी प्राप्त हुई है मैं देख कर सज्ञान लेता हूं।

– पी. एस. सुमन कार्यपालन अभियंता पीएचई विभाग, जांजगीर-चांपा

इस संबंध में मैं विभागीय अधिकारियों से जानकारी लेकर दोषियों पर कार्रवाई करूंगा।

आकाश छिकारा कलेक्टर, जांजगीर चांपा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *