दादी-पोती हत्याकांड के आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस अब कराएगी पॉलीग्राफ टेस्ट, 4 महीने पहले दादी और पोती की हुई थी निर्मम हत्या

दुर्ग –

जिले में 4 महीने पहले दादी-पोती की निर्मम हत्या का मामला अभी तक सुलझ नहीं पाया है. अब पुलिस इस मामले में हत्यारों को पकड़ने के लिए संदेहियों का पॉलीग्राफ टेस्ट का सहारा लेगी. पुलिस को पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए कोर्ट से अनुमति मिल गई है. पुलिस जल्द ही इसकी प्रक्रिया शुरू करेगी. बता दें कि पाटन क्षेत्र बहुचर्चित खड़मुडा हत्याकांड के बाद यह दूसरा मामला है, जिसमें पुलिस पॉलीग्राफ टेस्ट कराएगी.

7 मार्च को दुर्ग के गनियारी गांव में 62 वर्षीय दादी राजवती साहू और 17 वर्षीय पोती सविता साहू की अज्ञात आरोपियों ने की निर्मम हत्या कर दी थी. पुलिस की क्राइम टीम ने हजारों कॉल डिटेल खंगाले और सैकड़ों लोगों से पूछताछ की. लेकिन 4 महीने बाद भी पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं. इस मर्डर के आरोपियों के बारे में बताने वालो के लिए आइजी ने 25 हजार और एसपी ने 10 इनाम देने की घोषणा भी की थी. वहीं आरोपियों के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं होने के कारण मामले में अब पुलिस संदेहियों का पॉलीग्राफ टेस्ट कराएगी. इसके लिए पुलिस को कोर्ट से अनुमति मिल गई है. बताया जा रहा है कि पुलिस तीन लोगों का पॉलीग्राफ टेस्ट करवाएगी. पॉलीग्राफ टेस्ट के बाद पुलिस संदेहियों का नार्को टेस्ट भी करा सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *