रायगढ़ मिनरल्स की मनमानी चरम पर नियम कानून की परवाह नहीं

सक्ती संवाददाता – दीपक ठाकुर

बाराद्वार –

समीपस्थ ग्राम पंचायत

बस्ती बाराद्वार में स्थापित रायगढ़ मिनरल्स जो कि डोलोमाइट पत्थर का व्यापार करते हैं उनकी मनमानी आजकल चरम सीमा पर है शासन प्रशासन एवं नियम कानून को यह फर्म ठेंगा दिखा रही है।

विना डाईवर्सन के कंपनी की स्थापना साथ ही विना मंजूरी के वन विभाग की भूमि से रास्ता निर्माण

रायगढ़ मिनरल्स द्वारा विना जमीन के डार्यवर्सन के कंपनी की स्थापना कर दी गई और विभागीय जिम्मेदार अधिकारी चुप्पी साधे रहे। कंपनी को अधिकारियों से मिल रहे इस लाभ से उनका मनोबल और बढ़ गया और उन्होंने विना वन विभाग के अनुमति के वन भूमि में स्थित पेड़ों की कटाई कर कंपनी के आवाजाही हेतु रास्ता बना लिया और अब कंपनी की गाड़ियां बे रोक टोक के इस रास्ते पर फर्राटा भर रही है।वन विभाग के एक अधिकारी को पूछने पर उन्होंने बताया कि इस कंपनी ने रास्ता हेतु आवेदन किया है इसकी जानकारी मुझे नहीं है। ऐसे में रायगढ़ मिनरल्स के द्वारा लगातार नियम कानून को तोड़ा जा रहा है और राजस्व तथा वन विभाग मौन बैठे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *