स्वस्थ जांजगीर-चांपा अभियान के तहत अधिक से अधिक नागरिकों को मिले लाभ – कलेक्टर

जांजगीर चांपा संवाददाता – राजेन्द्र जायसवाल

जलजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए पुख्ता इंतजाम करने के दिए निर्देश

श्रमिकों के बच्चों को पीएससी, व्यापम, बैंकिंग की दी जायेगी निःशुल्क कोचिंग

कलेक्टर श्री आकाश छिकारा ने ली साप्ताहिक समय सीमा की बैठक

जांजगीर-चांपा 01 जुलाई 2024/ कलेक्टर श्री आकाश छिकारा ने सोमवार को कलेक्टोरेट कार्यालय के सभाकक्ष में समय सीमा की बैठक ली। कलेक्टर ने स्वास्थ्य एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों को बारिश के मद्देनजर जिले में डायरिया एवं अन्य जलजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से जिले में डायरिया उन्नमूलन हेतु किये जा रहे कार्यों के संबंध में जानकारी ली एवं डायरिया के नियंत्रण हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। उन्होंने बारिश में नालियों की साफ-सफाई, जल स्रोतों में ब्लीचिंग पावडर व क्लोरीन की दवा डालने कहा। साथ ही जगह जगह भरे पानी की निकासी की व्यवस्था की करने एवं सड़को की मरम्मत करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।
बैठक में कलेक्टर ने कहा कि मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक के बच्चों हेतु निःशुल्क सहायता योजना अंतर्गत सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल में पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बच्चों को शैक्षणिक योग्यता के अनुरूप प्रतियोगी परीक्षाओं सीजीपीएससी, व्यापम, बैकिंग जैसी अन्य परीक्षाओं की निःशुल्क कोचिंग दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 10 जिलों मे से जांजगीर-चांपा जिले में भी इस योजना के तहत निःशुल्क कोचिंग शुरू होने जा रही है। जिसके लिए संबंधित अधिकारियों को सभी आवश्यक तैयारी पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने कहा कि प्रधानमंत्री के मंशानुरूप ‘‘एक वृक्ष माँ के नाम‘‘ थीम पर जिले में 10 जुलाई से 16 जुलाई तक वृहद वृक्षारोपण अभियान चलाया जाएगा। डीएफओ ने जिले में 1 जुलाई से किये जा रहे पौधा वितरण एवं 10 से 16 जुलाई तक आयोजित होने वाले पौध रोपण कार्यक्रम के संबंध में जानकारी दी। कलेक्टर ने कहा कि जिले में 1 जुलाई से स्वस्थ जांजगीर-चांपा अभियान प्रारंभ किया गया है। स्वस्थ जांजगीर-चांपा अभियान अंतर्गत आयुष्मान भारत, सघन टीबी, कुष्ठ, सिकलसेल, एवं मोतियाबिंद एवं दिव्यांगता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। जिसमें स्वास्थ्य विभाग से चिन्हांकित दल द्वारा घर-घर भ्रमण कर खोज अभियान अंतर्गत संभावित अथवा स्वास्थ्य सुविधा से वंचित हितग्राहियों का चिन्हांकन कर उनको स्वास्थ्य सुविधा से लाभान्वित किया जा रहा है। कलेक्टर ने अभियान का सभी एसडीएम, जनपद सीईओ, बीएमओ, बीपीएम एवं सभी जिला स्तरीय अधिकारी को निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि स्वस्थ जांजगीर-चांपा अभियान के तहत अधिक से अधिक नागरिकों को मिले लाभ यह सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने खाद-बीज, भंडाराण एवं उठाव की समीक्षा करते हुए कहा कि किसानों को खाद-बीज को लेकर किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि खाद का नियमित रूप से उठाव हो यह सुनिश्चित करें। उन्होंने नवप्रवेशीत स्कूली बच्चों का जाति प्रमाण पत्र बनवाने के निर्देश देते हुए तहसीलदार, नायब तहसीलदारों को आवश्यक दस्तावेजों के अभाव में लंबित जाति प्रमाण पत्र को ब्लॉक शिक्षा अधिकारी से समन्वय कर प्रगति लाने कहा। इसके अलावा उन्होंने आवश्यक दस्तावेज के अभाव में रुके जाति प्रमाण पत्र वाले बच्चों का चिन्हांकन करने के भी निर्देश दिए। जिले में अवैध रूप से की जा रही प्लाटिंग पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश राजस्व अधिकारियों, नगरीय निकाय के अधिकारियों को दिए।
कलेक्टर ने राजस्व के दर्ज, निराकृत और लंबित प्रकरणों की समीक्षा के साथ ही तहसील वार अविवादित नामांतरण, लंबित अविवादित नामांतरण, भू राजस्व के बकाया के रूप में वसूली न्यायालय में लंबित विवादित नामांतरण, विवादित खाता विभाजन, लंबित अविवादित खाता विभाजन, सीमांकन, व्यपवर्तन के लंबित प्रकरणों, भूमि त्रुटि सुधार के कार्य, शासकीय भूमि का अतिक्रमण को रोकने और जुर्माना वसूली एवं विभिन्न स्तरों पर प्राप्त आवेदनों पर कार्यवाही की विस्तृत समीक्षा की। बैठक में उन्होंने विभागवार लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को सभी लंबित प्रकरणों का निराकरण शीघ्र सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। बैठक में सहायक कलेक्टर श्री दुर्गाप्रसाद अधिकारी, एडीएम श्री एस पी वैद्य, जिला पंचायत सीईओ श्री गोकुल कुमार रावटे, अपर कलेक्टर श्रीमती लवीना पांडे सहित जिला स्तरीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *