पोछा लगाते वक्त पानी में मिलाएं यें चीजे, घर के आस पास भी नही दिखेंगी चीटियां…

मानसून में वातावरण में नमी के साथ ही हर जगह सीलन की समस्या भी होने लगती है, जिससे कीट-पतंगे भी काफी बढ़ जाती हैं. नमी की जगह पर कॉकरोच और बरसाती कीड़ों की समस्या भी होने लगती है. ऐसे में घर के फर्श के कोनों में इन कीड़ों का काफी डर रहता है. इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए घर में रखी कुछ चीजों को पानी में मिलाकर पोछा लगाया जा सकता है. इससे सफाई भी ज्यादा बेहतर तरीके से होती है और कीड़े, कॉकरोच, चीटियां आने की संभावना भी कम हो जाती है.

नमक और नींबू से मिलेंगे ढेरों फायदे

रसोई में आसानी से मिल जाने वाला नींबू और नमक आपकी इस प्रॉब्लम का आसानी से हेल्प कर सकता है। बस आपको अपने पोछे के पानी में एक नींबू और दो चम्मच नमक मिला लेना है। इस पानी से पोछा लगने से चीटियां और कॉकरोच दूर ही रहेंगे। आप चाहें तो ओर असरदार तरीके के लिए एक स्प्रे भी तैयार कर सकती हैं। एक कप नींबू के रस में एक चम्मच नमक मिला लें। अब जहां भी आपको चींटियों और कॉकरोच की शिकायत है वहां-वहां इस स्प्रे को छिड़क दें।

पोछे के पानी में मिलाएं नमक और विनेगर

अगर आप लाल चींटियों से छुटकारा पाने चाहती हैं, तो घर को पोछा लगाते समय आप पानी में सफेद विनेगर और नमक मिला सकती हैं। विनेगर की महक चींटियों को पसंद नहीं होती हैं। ऐसे में अगर आप पोछा लगाने में इसका इस्तेमाल करते हैं, तो चीटियां कोसों दूर भागेंगी।

कोने में डालें लाल मिर्च का पेस्ट

अगर बारिश के मौसम  में आपके घर पर जरूरत से ज्यादा ही चीटियां लग रही हैं, तो ऐसे में आप पानी में लाल मिर्च पाउडर मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर सकती हैं और इस पेस्ट को घर के उस कोने या जगह पर डालें जहां सबसे ज्यादा चिटियों का बसेरा रहता है। ऐसा करने से चींटियां दूर भागने लगेंगी और आपको राहत मिल जाएगी।

अगर चीटियां आपके किचन की स्लैब पर लग जा रही है और यह पके हुए भोजन जैसे रोटियों को भी बर्बाद कर रही हैं, तो इससे निपटने के लिए सबसे आसान उपाय है- काली मिर्च और हल्दी का स्प्रे। दरअसल, इसके लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत नहीं करनी है। बस काली मिर्च और हल्दी के पाउडर को पानी में डालकर उबाल लें। फिर इस पानी को एक स्प्रे बोतल में भर लें और इसका कोना-कोना में छिड़काव करें। इसकी तेज गंध से चीटियां घरों से भागना शुरू कर देंगी।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *