लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही इन 6 नामो की चर्चा जोरों पर

संतोष पांडे, खूबचंद पारख, रमेश पटेल, नीलू शर्मा, कमल सोनी व अशोक देवांगन

राजनंदगांव  संजय सोनी

* विधानसभा चुनाव निपटने के बाद अब लोकसभा की तैयारी सियासी दलों और प्रशासनिक महकमो में जोरों पर है। और इसी तैयारी के चलते हैं। इसी माह मार्च अंत तक लगभग लोकसभा प्रत्याशी का नाम तय हो सकते हैं। जिस हिसाब से भारतीय जनता पार्टी विधानसभा चुनाव में नए चेहरे को मौका देकर और नए चेहरे का फॉर्मूला देकर पार्टी सफल रही हैं।
सूत्रों से पता चला है कि पार्टी इस बार छत्तीसगढ़ के 11 लोकसभा सीटो में नए चेहरे को मौका दे सकती है। अगर वर्तमान सांसद संतोष पांडे रिपीट नहीं होते हैं। तो उस हिसाब से पार्टी राजनांदगांव मुख्यालय से प्रत्याशी बना सकती है। क्योंकि सांसद संतोष पांडे कवर्धा से आते हैं। विधानसभा चुनाव में जिले की 6 विधानसभा सीट में भारतीय जनता पार्टी ने एक सीट जीता है वह भी पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह राजनांदगांव से बाकी पांच विधानसभा में भाजपा के प्रत्याशी हारे इसलिए लगता है कि उनके सांसद रहेते पांच विधानसभा हारे है। संगठन की दृष्टि से ऐसा लगता है कि उनको दोबारा मौका मिलेगा नहीं मिलेगा यह सोचने वाली बात है। अगर दोबारा रिपीट नहीं होते हैं तो उस लिहाज से लगता है कि लोकसभा का प्रत्याशी राजनांदगांव मुख्यालय से हो सकता है अगर राजनांदगांव मुख्यालय से पार्टी प्रत्याशी बनाती है। तो प्रबल दावेदारी में पूर्व प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष खूबचंद, जिला भाजपा अध्यक्ष रमेश पटेल, प्रदेश प्रवक्ता नीलू शर्मा, पूर्व सोशल मीडिया प्रभारी कमल सोनी और जिला पंचायत के सभापति अशोक देवांगन के नाम की चर्चा जोरो पर है।

➡️ जिसमें सर्वप्रथम वर्तमान सांसद संतोष पांडे जो की कवर्धा निवासी है। संघ और संगठन में पकड़ मजबूत है। विधानसभा चुनाव में उनकी अहम भूमिका रही।

➡️ खूबचंद पारख भाजपा के वरिष्ठ नेता है। उनका राजनीति में लंबा अनुभव और संगठन में मजबूत पकड़ है। विभिन्न दायित्वों का निर्वहन उन्होंने सफलतापूर्वक किया है। वह भाजपा सरकार में 20 सूत्रीय क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष का दायित्व निभा चुके हैं।

➡️ रमेश पटेल भारतीय जनता पार्टी के वर्तमान जिला अध्यक्ष, पूर्व पार्षद व तीन बार शहर अध्यक्ष का दायित्व निभा चुके हैं। संगठन में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन कर चुके हैं। भाजपा शासन काल में राजगामी संपदा के अध्यक्ष रह चुके हैं। रमेश पटेल जो कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के करीबी माने जाते हैं।

➡️ नीलू शर्मा वर्तमान में प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता हैं और वरिष्ठ भाजपा नेता अशोक शर्मा के पुत्र हैं। संगठन में पकड़ मजबूत है। सभी धार्मिक और संगठनात्मक आयोजनों में सक्रिय रहते हैं। और वर्तमान में राजनांदगांव लोकसभा के सह संयोजक बनाया गया है।

➡️ कमल सोनी जो की पूर्व महापौर स्वर्गीय शोभा सोनी के भाई है। शोभा सोनी जो कि दो बार पार्षद एक बार महापौर और प्रदेश अध्यक्ष महिला मोर्चा व समाज कल्याण बोर्ड राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त था। कमल सोनी लगभग 25 वर्षों से राजनीति में सक्रिय है। जिला भाजपा के सोशल मीडिया प्रभारी का दायित्व और शक्ति केंद्र प्रभारी श्रीराम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा अभियान समारोह के नगर सह-संयोजक का दायित्व बखूबी निभाया। श्री सोनी की सक्रियता सभी सामाजिक धार्मिक व पार्टी की गतिविधियों में निरंतर बने रहती है।

➡️ अशोक देवांगन जो कि वर्तमान में जिला पंचायत सभापति है। ग्राम सुकुलदैहान के दो बार सरपंच रह चुके हैं। संगठन के विभिन्न दायित्वों का निवर्हन और विभिन्न पदों पर रह चुके हैं। लंबा राजनीतिक अनुभव है। ग्रामीण क्षेत्रों में पकड़ मजबूत है।ग्रामीण नेता कहलाते हैं। ग्रामीणों में अशोक देवांगन को मामा के नाम से जाने जाते हैं।

राजनांदगांव संवाददाता – संजय सोनी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *