0 1 min 5 mths

राजनांदगांव संवाददाता – संजय सोनी

420 कर खाता खुलाकर किया करोड़ों का ट्रांजेक्शन

मैं ग्राम गठुला चौकी चिखली जिला राजनांदगांव में रहता हूं। गणपति मेडिकल राजनांदगांव से दवाईया लाकर ग्रामीण बाजार एवं मोहल्ले में घुम घुमकर आयुर्वेदिक दवाई बेचने का काम करता हूं । गणपति मेडिकल वाले का लडका विनायक साहू से अच्छी जान पहचान होने का फायदा उठाकर मेरा व मेरी पत्नि का खाता केनरा बैंक ममता नगर राजनांदगांव में खुलवाकर पासबुक और एटीएम अपने पास रखकर खाते में धोखाधडीपूर्वक बडी राशि का आदान प्रदान किया जा रहा हैं, जिस संबंध में कार्यवाही हेतु लिखितआवेदन पेश कर रहा हूं। आवेदन पर से प्रथम दृष्टया अपराध धारा 420 भादवि का घटित होना पाए जाने से आरोपी विनायक साहू के विरूध्द अपराध पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया ।

आवेदन पत्र नकल जैल है प्रति श्रीमान थाना प्रभारी थाना कोतवाली राजनांदगांव ,विषय – मेरा व मेरी पत्नि के बैक खाता में धोखधडी की सूचना बाबत । महोदय, निवेदन है कि मैं देवलाल साहू पिता मंशाराम साहू उम्र 41 साल पता ग्राम गठुला चौकी चिखली जिला राजनांदगांव में रहता हूं। ग्रामीण बाजार एवं मोहल्ले में घुम घुमकर आयुर्वेदिक दवाई बेचने का काम करता हूं । गणपति मेडिकल मेडिकल राजनांदगांव से दवाईया लाता हूं और बेचते हूं मेरा गणपति मेडिकल वाले से अच्छी जान पहचान हैं । दिनांक 27/06/2023 को दोपहर करीब 12.00 बजे गणपति मेडिकल वाले का लडका विनायक साहू पिता जयंती साहू द्वारा मुझे शासकीय योजनाओं के बारे में बताते हुए कहा कि नया बैंक एकाउंट खुलवा लो जिसमें शासन द्वारा 1000 रूपये आपके खाते में आयेगे । मुझे व मेरी पत्नि पूर्णिमा साहू को अपने साथ ममता नगर स्थित बैंक लेकर गया जहां पर हम दोनो पति पत्नि का अलग अलग खाता खुलवाने फार्म भर के लाया और हमारा फोटो चिपकाया । उस समय फार्म पूरा नही भरा था मैं पूरा भर दूंगा कहकर हमारा हस्ताक्षर करवाया था जिसके विश्वास में हम लोग हस्ताक्षर कर दिये थे । उसी दिन हमारा खाता खुल गया था ।

पासबुक मिलने के बाद दोनो पासबुक को विनायक साहू अपने पास रख लिया और बोला कि एटीएम मिलने पर आना शासन द्वारा डाले गए रूपयो को निकालकर मै आपको दे दूंगा। मैं एटीएम मिलने के बाद उन्हें दे दिया था जो 2000 रूपये मुझे दिया था । आज तक मुझे एटीएम व पासबुक को वापस नही किया हैं, जब मैं एटीएम व पासबुक को वापस मांगा तो आटोमेटिक बंद हो जाएगा बोलकर नही दिया । एक दिन केनरा बैक का मैनेजर मेरे घर आया और बताया कि आपके खाते से करोडो रूपये का लेनदेन हो रहा हैं जिन्होने मुझे जानकारी दिया । उनके साथ बैगलोर का एक अधिकारी भी आए थे कौन है मै नही जानता । उसके बाद मैं विनायक साहू से पासबुक व एटीएम मांगा तो उसने बोला कि कही गुम गया हैं, और मुझे घुमाता रहा आज तक वापस नही दिया है । मेरे खाते का उपयोग कौन कर रहा इसकी कोई जानकारी मुझे नही हैं। बैंक जाकर मैने अपने खाता की जानकारी लिया मेरा और मेरी पत्नि का खाता नम्बर 110130228689 व 110129957977 हैं जिसमें विनायक साहू ने हमारा मोबाइल नम्बर न डालकर किसी अन्य का मोबाइल नम्बर 9993594136 व 9685068522 डाल दिया है। मेरा व मेरी पत्नि का बैंक खाता खुलवा कर पैसे का हेर फेर कर विनायक साहू द्वारा धोखाधडी किया गया है । अत: विनायक साहू के विरूध्द कार्यवाही करने का कष्ट करें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *