0 1 min 4 mths

ओडगी संवाददाता – कन्हैया साहू

विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारी रहें नदारद

ओड़गी – छत्तीसगढ़ शासन महिला बाल विकास व समाज कल्याण तथा भटगांव विधानसभा विधायक लक्ष्मी राजवाड़े शनिवार को सूरजपुर जिले के ओड़गी व बिहारपुर मंडल के विभिन्न ग्राम पंचायतों पर एक दिवसीय दौरे पर रहीं. जहां पर विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारी नदारद रहे. मंत्री लक्ष्मी राजवाड़े ने बिहारपुर मंडल अंतर्गत ग्राम छ्तौली बीजों,केसर, खोड़ ,इंजानी व ओड़गी मंडल अन्तर्गत टमकी , करवां, बेदमी, मसनकी व खर्रा में आभार कार्यक्रम में पहुंची. जहां पर उन्होंने ने आम जनता का आभार व धन्यवाद ज्ञापित किया. इस मौके पर ओड़गी भाजपा मंडल अध्यक्ष राजेश तिवारी, बिहारपुर मंडल अध्यक्ष रामेश्वर वैश्य, प्रवीण गुर्जर, प्रदीप द्विवेदी, बलराम सोनी, अशोक गुप्ता,संतोष सिंह, पुनीत पाठक, मोहन राम राजवाड़े , आशीष, कालीचरण काशी, विनीता यादव, गौरी सिंह, संधारी यादव, हंसेलाल,केशव सिंह, शिवकुमार राजवाड़े, नीरज गुर्जर, अजेंद्र गुर्जर, बृजेश कांशी,रुपेन्द्र कुशवाहा, प्रियंशु यादव, कन्हैयालाल साहू व भारी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहें. साथ ही विभाग से एडीइओ जनकराम वर्मा, मनरेगा कार्यक्रम अधिकारी महेन्द्र कुशवाहा, सीडीपीओ मीरा कुरील आदि मौजूद रहे.

एक मार्च को महतारी वंदन‌ योजना का पैसा जारी किया जाएगा- लक्ष्मी राजवाड़े

कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी राजवाड़े ने आम जनता को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी की गारंटी पत्र के तहत शुरू की गई महिला बाल विकास विभाग द्वारा महतारी वंदन‌ योजना अन्तर्गत जो अभी फार्म भरें जा रहें उसका पैसा सीधे महिलाओं के खाते में एक मार्च 2024 को डाल दिया जाएगा. इसीलिए आप सभी महिलाएं अधिक से अधिक संख्या में फार्म भरवाए और योजना का लाभ उठाएं.

कुछ विभागों को छोड़कर बाकी विभागों के अधिकारी कर्मचारी रहें नदारद

छत्तीसगढ़ शासन महिला बाल विकास मंत्री लक्ष्मी राजवाड़े ने बिहारपुर व ओड़गी मंडल के नौ ग्राम पंचायतों के कार्यक्रमों में शिरकत की. उन्होंने आम जनता से मिलकर उनकी समस्याएं भी सुनी. मंत्री जी लगभग पूरे दिन बिहारपुर व ओड़गी मंडल रहीं. इस दौरान जनपद पंचायत अधिकारी, महिला बाल विकास विभाग, पुलिस विभाग, स्वास्थ्य विभाग, वन विभाग , बिजली विभाग, सहकारिता विभाग, इन‌ विभागों के आलावा किसी भी विभाग का कोई स्थानीय अधिकारी मौके पर मौजूद नहीं रहा .इन अधिकारियों के उपस्थित न रहने के कारण उनको लोगों द्वारा की गई शिकायतों व बताई गई समस्याओं के मौके पर निराकरण करने में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.ऐसे में विभागों के अधिकारियों के मौके पर न होने से इनका तुरंत निपटान नहीं हो पाया. अब देखने वाली बात है कि ऐसे अधिकारियों पर कार्यवाही होती है या नहीं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *