0 1 min 4 mths

बिहार विधानसभा में सोमवार को एनडीए गठबंधन की सरकार को अग्नि परीक्षा देनी होगी। दरअसल, सोमवार को बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार की प्रधानता में बनी एनडीए की सरकार (राष्ट्रीय जनतांत्रिक) को बहुमत हासिल करना है, वहीँ बहुमत साबित करने को लेकर विधानसभा में विधायकों के पहुंचने का सिलसिला जारी हो गया है। दिन के करीब 10:20 पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी फ्लोर टेस्ट में हिस्सा लेने पहुंच चुके है।

आपको बता दें की इस दौरान नीतीश कुमार का बॉडी लैंग्वेज काफी पॉजिटिव देखा गया, नीतीश कुमार विधानसभा में पहुंचते ही काफी सहज और सरल नजर आ रहे है। सीएम के चेहरे पर जहां मुस्कान दिखी तो वहीं दूसरी ओर उन्होंने दो बार हाथ हिलाकर पत्रकारों का अभिवादन भी किया। हालांकि इस दौरान उनके साथ मौजूद रहे कुछ मंत्री और विधायकों ने विक्ट्री साइन भी दिखाया लेकिन नीतीश कुमार ने हाथ हिलाकर पत्रकारों का अभिवादन किया और इसके बाद वो विधानसभा की ओर प्रवेश किये। बता दें की बिहार विधानसभा की कार्यवाही दिन के 11 बजे से शुरू होगी।

वहीँ बीजेपी के विधायकों ने दोनों डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी और विजय सिन्हा के नेतृत्व में पैदल मार्च करते हुए विधानसभा में प्रवेश किया। सभी बीजेपी के नेता जय श्रीराम का नारा लगाते दिखे इस दौरान एनडीए सरकार की तरफ से बहुमत हासिल करने का दावा किया गया है तो वहीं दूसरी तरफ सम्राट चौधरी ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि तेजस्वी यादव को खिलौना देंगे। साथ ही बिहार विधानसभा में सभी दलों के पहुंचने का सिलसिला जारी है।

आपको बता दें की, बिहार विधानसभा में कुल विधायको की संख्या 243 है, इसके साथ ही सदन में बहुमत साबित करने के लिए 122 विधायकों का समर्थन जरूरी है, वहीँ एनडीए का दावा है कि उसके पास 128 विधायकों का संख्याबल मौजूद है जिसमें बीजेपी के 78, जद-यू के 45, हम के 4 और इसमें एक निर्दलीयह शामिल हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *