बालको नगर डॉक्टर अंबेडकर स्टेडियम में गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान इलेक्ट्रॉनिक स्मोक डिवाइस के हादसे में तीन छात्रों के शरीर का निचला हिस्सा बुरी तरीके से झुलसा..

कोरबा न्यूज़36 गढ़ :-

कोरबा जिले के बालको नगर डॉक्टर अंबेडकर स्टेडियम में गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान छात्रों की इलेक्ट्रॉनिक स्मोक डिवाइस से 3 छात्रों की जलने की घटना सामने आई है, हादसे में तीन छात्रों के शरीर का निचला हिस्सा बुरी तरीके से झुलस गया है। जिनका प्राथमिक उपचार कराया गया है। पूरा मामला कोरबा जिले के बालको में डॉक्टर अंबेडकर स्टेडियम में गणतंत्र समारोह के दौरान का है, जहां लोग गणतंत्र दिवस समारोह के खुशी में मशगूल थे, तभी एमजीएम स्कूल बालको के बच्चों द्वारा डांस की प्रस्तुति दी जा रही थी जिसमें इलेक्ट्रॉनिक स्मोक डिवाइस को बच्चों के पैरों में बांधा गया था, डांस के बीच में ही अचानक स्मोक डिवाइस में ब्लास्ट होने के कारण तीन छात्रों का शरीर का निचला हिस्सा बुरी तरीके से इसमें झुलस गया है, इस घटना से स्टेडियम में स्थिति निर्मित हो गई छात्रों को उपचार हेतु निजी अस्पताल ले जाया गया है।

छात्रों के पांव में बांधे गए थे स्मोक डिवाइस- पूरी घटना में स्कूल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है जहां छात्रों के पैरों में स्मोक डिवाइस को बांधा गया था स्टेडियम में डांस करने के दौरान ही स्मोक डिवाइस में शॉर्ट सर्किट होने के कारण तीन छात्र इसमें बुरी तरीके से झुलस गए हैं ।

एमजीएम स्कूल के छात्र थे बच्चे- हादसे में झुलसने वाले छात्र एमजीएम हायर सेकेंडरी स्कूल बालकों के बच्चे बताई जा रहे हैं जो अपने डांस के प्रस्तुति देने गणतंत्र दिवस समारोह में पहुंचे थे जिनके साथ यह पूरी घटना घटित हुई है वहीं प्रबंधन का कहना है कि स्मोक डिवाइस की जानकारी हमें नहीं थी।

पलकों में घटना के बाद फूटा आक्रोश- छात्र के पलक ने एमजीएम स्कूल प्रबंधन के विरुद्ध गहरी नाराजगी जताते हुए प्रबंधन की लापरवाही बताई है उन्होंने बताया कि स्कूल के टीचर घटना के बारे में पूछने पर गोल मटोल जवाब देते हैं कि डिवाइस का उपयोग की जानकारी हमें नहीं थी, प्रबंधन की लापरवाही पूर्व की उनके बच्चे के साथ ऐसी घटना घटित हुई है।

एमजीएम स्कूल प्रबंधन की लापरवाही- गौर करने वाली बात यह है कि बच्चे अपने डांस प्रोग्राम में इलेक्ट्रॉनिक स्मोक डिवाइस का उपयोग करते हैं परंतु स्कूल प्रबंधन को इस बात की जानकारी नहीं होती है जबकि आपको बता दें कि स्कूल स्टाफ के साथ स्कूल के बच्चों के टीम स्टेडियम में डांस की प्रस्तुति देने पहुंचते हैं फिर इस प्रकार के लापरवाही कई सवाल खड़े करते हैं ।

(कोरबा संवाददाता – कृष्णा दास)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *