0 1 min 4 mths

जांजगीर चांपा संवाददाता – राजेंद्र जायसवाल

वर्तमान जिला मुख्यालय जेठा में 13 करोड़ से अधिक की लागत से नवीन कोर्ट बिल्डिंग का होगा निर्माण

जिला शक्ति छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के माननीय मुख्य न्यायमूर्ति श्रीमान रमेश सिन्हा के वर्चुअल उपस्थिति एवम माननीय न्यायमूर्ति श्रीमान पार्थ प्रतीम साहू के सायुज्य में सक्ती जिला मुख्यालय जेठा में 13,37,72000 रु की लागत से निर्मित होने वाले नवीन व्यवहार न्यायालय भवन का भूमि पूजन किया गया जिसमें 6 न्यायालय कक्ष के साथ अधिवक्ता कक्ष, नाजीरात, मालखाना, मुलजिम कक्ष, गार्डन आदि का निर्माण प्रस्तावित है ।
इस अवसर पर विशेष न्यायाधीश यशवन्त सारथी, अपर सत्र न्यायाधीश द्वय डा ममता भोजवानी एवम् बी आर साहू, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी गंगा पटेल, न्यायिक दंडाधिकारी दिव्या गोयल के साथ अधिवक्ता संघ के पदाधिकारी एवम् सदस्यगण, जन प्रतिनिधिगण, जिला प्रशासन की ओर से एस डी एम पंकज दाहिरे, जिला शिक्षा अधिकारी बी एल खरे, एस डी ओ लोक निर्माण राकेश द्विवेदी, न्यायालय कर्मचारीगण की गरिमामय उपस्थिति रही।

इस अवसर पर सर्वप्रथम मुख्य न्यायाधिपति रमेश सिन्हा व पोर्टफोलियो न्यायाधीश न्यायमूर्ति पार्थ प्रतीम साहू का वर्चुअल उद्बोधन एवम् चांपा में न्यायमूर्ति पार्थ प्रतीम साहू के करकमलों से भूमिपूजन पट्टिका के अनावरण का सबने लाइव प्रसारण देखा ।तदपश्चात न्यायधीश गण एवम् अधिवक्ता बंधुओं ने मंत्रोच्चार के साथ भूमिपूजन के कार्य को संपादित किया ।
इन यादगार पलों में उपस्थित जन समुदाय को संबोधित करते हुए विशेष न्यायाधीश यशवंत सारथी ने कहा कि प्रस्तावित भवन आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित होगा जिसके लाभ हम सभी को मिलेगा तो वहीं मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी श्रीमती गंगा पटेल ने आयोजन को सफल बनाने के लिए सभी की सहभागिता के लिए साधुवाद प्रगट करते हुए आभार ज्ञापित किया।इन पलों में अधिवक्ता संघ अध्यक्ष दिगंबर चौबे ने सभी अधिवक्ताओं को बधाई देते हुए शीघ्र भव्य न्यायालय भवन निर्माण की कामना किया तो वहीं अधिवक्ता गृह निर्माण सहकारी समिति के अध्यक्ष एवम् उच्च न्यायालय अधिवक्ता चितरंजय पटेल ने बताया कि गृह निर्माण समिति का पंजीयन के बाद भू आबंटन की प्रक्रिया जारी है फलस्वरूप न्यायिक अधिकारीयों से आग्रह है कि इस दिशा में जिला प्रशासन को असक्षम अधिवक्ताओं के आवास हेतु शीघ्र भूखंड आबंटन के लिए समुचित कार्यवाही करें तो महती कदम साबित होगा।

आज भूमिपूजन कार्यक्रम में अधिवक्ता गनी मोहम्मद के प्रतिवेदन पठन किया तो वहीं मंच संचालन अधिवक्ता लीलाधर चंद्रा ने किया।
विदित हो कि विधि विधायी विभाग द्वारा जारी पत्र दिनांक 16फरवरी 2023 के अनुसार सक्ती व्यवहार न्यायालय हेतु 6न्यायलयीन कक्ष के साथ अन्य कक्षों के निर्माण हेतु वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई है जिसके बाद आज प्रस्तावित स्थल जेठा में भूमि एवम् शिला पूजन का कार्यक्रम आयोजित किया गया जो नवीन जिला सक्ती के न्यायिक जगत के लिए एतिहासिक क्षण रहा जबकि नवीन व्यवहार न्यायालय भवन की आधारशिला रखी गई जिसमे अधिवक्ता बंधुओं के साथ मीडिया एवम् गणमान्य बंधुओं की गरिमामय उपस्थिति रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *