0 1 min 4 mths

जिला एमसीबी- हनुमान प्रसाद यादव

मनेन्द्रगढ़ आज कलेक्टर डी. राहुल वेंकट की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष समय-सीमा की बैठक आयोजित की गई। कलेक्टर ने बैठक में जिला अधिकारियों की विभागवार लंबित प्रकरणों एवं महतारी वंदन योजना के तहत प्राप्त आवेदनों की ऑनलाइन एन्ट्री की प्रगति तथा प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की समीक्षा की और कहा कि इन योजनाओं से अधिक-से-अधिक हितग्राहियों को लाभान्वित करें। समय सीमा की बैठक में कलेक्टर श्री डी. राहुल वेंकट ने महतारी वंदन योजना के तहत प्राप्त आवेदनों के सत्यापन तथा ऑनलाईन एन्ट्री की प्रगति समीक्षा करते हुए प्राप्त आवेदनों को शीघ्र ऑनलाईन एन्ट्री करने के निर्देश दिए साथ ही प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के तहत शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के प्राप्त आवेदनों की जानकारी ली तथा अधिक-से-अधिक हितग्राहियों को स्वरोजगार से जोड़ने को निर्देशित किये।

उन्होंने माननीय हाईकोर्ट से प्राप्त लंबित प्रकरणों की जानकारी लेते हुए तत्काल निराकरण के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, धान खरीदी व धान के उठाव की भी जानकारी ली। श्री वेंकट ने समय सीमा की बैठक में विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान प्राप्त आवेदनों, जन चौपाल, पीजी पोर्टल एवं जन शिकायत पोर्टल में लंबित प्रकरणों की विभागवार समीक्षा की तथा संबंधित विभागीय अधिकारियों को प्रकरणों का समय-सीमा पर व्यक्तिगत रूचि लेकर निराकरण करने तथा निराकरण की जानकारी लिखित प्रतिवेदन में भेजने के निर्देश दिये। उसके बाद उन्होंने शासन स्तर या संचालनालय स्तर से आये पत्रों एवं निर्देशों की समीक्षा की। उन्होंने विभागवार महिला एवं बाल विकास विभाग, जल जीवन मिशन, समाज कल्याण, मत्स्य पालन, विश्वकर्मा योजना तथा मध्यान्ह भोजन योजना पर चर्चा करते हुए। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी, जनपद सीईओ तथा एनआरएलएम तीनों विभागों को समन्वय के साथ कार्य करने के निर्देश दिये।

बैठक में कलेक्टर ने डीएमएफ मद से जिले के लिए स्वीकृत होने पूर्ण, अपूर्ण तथा अप्रारंभ कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि जो भी कार्य पूर्ण हो गये उनके पूर्णता प्रमाण पत्र जल्द से जल्द जमा करने के निर्देश दिये। लंबित प्रकरणों में राजस्व, जिला पंचायत, वरिष्ट लिपिक शाखा, न्यायिक शाखा, वन विभाग, शिकायत शाखा, वित्त स्थापना, भू-अर्जन शाखा, खाद्य विभाग, शिक्षा विभाग, आदिवासी विभाग, जल संसाधन विभाग, स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, खनिज, श्रम, समाज कल्याण, लोक निर्माण, महिला एवं बाल विकास, खेल विभाग, जनपद पंचायत, नगर पालिका, विद्युत विभाग, स्वास्थ्य और कृषि विभाग इत्यादि के प्रकरणों पर क्रमवार चर्चा हुई। उन्होंने लंबित आवेदनों को सर्वोच्च प्राथमिकता देने को कहा तथा उनके विभाग के लंबित प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिये। एवं अवैध निर्माण का नियमितिकरण, आवासीय भूमि पर व्यावसायिक गतिविधियों का नियमितिकरण आदि के संबंध में अधिकारियों से विस्तारपूर्वक चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिये।

उक्त बैठक संयुक्त कलेक्टर सी.एस.पैकरा, एसडीएम विजयेन्द्र सारथी, डिप्टी कलेक्टर प्रवीण भगत, सर्व तहसीलदार, सर्व जनपद सीईओ, विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी सहित कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *