0 1 min 4 mths

संयुक्त किसान मोर्चे की एक अहम बैठक गुरुवार को यानी आज ही के दिन चंडीगढ़ में किसान भवन में हो रही है पहले यह मीटिंग दिल्ली में होनी थी, लेकिन अब चंडीगढ़ में होगी। इसमें देश के अलग-अलग राज्यों के किसान जत्थेबंदियों के नेता भाग लेने आ रहे हैं, मोर्चे के प्रवक्ता जगमोहन सिंह ने बताया कि लगभग 100 से ज्यादा किसान नेता इस मीटिंग में भाग लेंगे।

दरअसल, इस पर मौजूदा स्थिति पर विचार किया जाएगा और जो संयुक्त किसान मोर्चे ने संघर्ष शुरू किया है, उसकी अगली रूपरेखा तैयार की जाएगी, इसमें हनन मौला, राकेश टिकैत, सत्यवान, मेधापाठकर बलबीर सिंह राजेवाल, प्रेम सिंह भंगू, बूटा सिंह बुर्जगिल, मनजीत सिंह धनेर, जोगिंदर सिंह उगराहां, सुखदेव सिंह कोकरी और बड़े नेता भाग लेंगे।

ख़बरों के मुताबिक, संयुक्त किसान मोर्चे की मांगों में 23 फसलों के लिए एमएसपी की कानूनी गारंटी के अलावा, किसानों की कर्ज माफी, किसानों के लिए पैंशन, नकली खाद और बीज बेचने वालों के लिए सख्त सजा, लखीमपुर खीरी के किसानों के साथ इंसाफ जैसी मांगें शामिल हैं, हालाँकि संयुक्त किसान मोर्चा का एलएलएम जत्थेबंदी संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) से अपना अलग प्रोग्राम है।

 

.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *