0 1 min 4 mths

युसूफ खान/बलरामपुर –

कलेक्टर श्री रिमिजियुस एक्का के निर्देशन में जिले के विशेष पिछड़ी जनजाति परिवारों के आर्थिक स्थिति में सुधार के साथ स्वास्थ्य लाभ देने सतत् प्रयास किया जा रहा है। इसी कड़ी में विकासखंड कुसमी अंतर्गत ग्राम राजुआढ़ोड़ी और विनायकपुर के पहाड़ी कोरवा गांवों में पीवीटीजी परिवारों के स्वास्थ्य जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया।

शिविर में पीवीटीजी परिवारों के स्वास्थ्य जांच कर उन्हें विभागीय योजनाओं की जानकारी भी प्रदान की गई। यह स्वास्थ्य शिविर आकांक्षी ब्लॉक कार्यक्रम का हिस्सा था। स्वास्थ्य शिविर विशेष पिछड़ी जनजातियों (पीवीटीजी) के स्वास्थ्य आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए व्यवस्थित किया गया है। स्थानीय समुदाय के सक्रिय भागीदारी के साथ शिविर में 55 व्यक्तियों का सामान्य स्वास्थ्य जांच, 38 व्यक्तियों का सिकल सेल टेस्ट, 13 व्यक्तियों का मलेरिया टेस्ट और 27 व्यक्तियों का उच्च रक्तचाप और मधुमेह की स्क्रीनिंग की गई। जो आकांक्षी ब्लॉक कार्यक्रम के 40 मुख्य प्रदर्शन सूचकांकों में से एक है। साथ ही उन्हें योजनाओं से जुड़कर लाभ प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित किया गया।

शासन की इस पहल के द्वारा अब विशेष पिछड़ी जनजाति के लोगों को जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, जन्म, मृत्यु प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, पेंशन जैसी मूलभूत प्रशासकीय सुविधाओ के साथ स्वास्थ्य सुविधाएं भी सुगमता से प्राप्त हो रही है साथ ही साथ ग्राम पंचायतों के माध्यम से संचालित केन्द्र तथा राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ वे ले पा रहें है। आकांक्षी ब्लॉक कार्यक्रम के लक्ष्यों के साथ मेल खाते हुए, यह पहल संकटग्रस्त समुदायों में स्वास्थ्य परिणामों और समग्र कल्याण में सुधार करने के प्रति प्रतिबद्धता को दर्शाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *