राजनांदगांव संवाददाता – संजय सोनी

श्री शिवभोले मानस प्रचार समिति समिति एवं ग्रामवासियों द्वारा भगवान श्री रामलला की अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा होने के उपरांत 17 व 18 फरवरी को ग्राम पार्रीकला में मानस गान एवं टीका सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन के द्वितीय दिवस रविवार को बतौर अतिथि के रूप में शहर जिला कांगे्रस अध्यक्ष कुलबीर सिंह छाबड़ा शामिल हुए।
भौतिकता के इस कलुषित वातारण में धर्म के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए धार्मिक आयोजन का होना आवश्यक है, जहां श्री हरि के सुमिरन मात्र से जीव की मुक्ति सुलभ हो जाती है, ऐसे परमात्मा श्रीराम के गुणान्वाद एवं भक्ति रूपी गंगा में डूबकी लगाने का अवसर संकटमोचन धाम पार्रीकला में बन पड़ा जहां मानस गानरूपी धर्मयज्ञ में सहभागिता निभाकर निज एवं विश्वकल्याण का मार्ग प्रशस्त कर रहा है उक्त उदगार मानस सम्मेलन में पहंुचे कांग्रेस अध्यक्ष कुलबीर सिंह छाबड़ा ने कही।
दो दिवसीय मानस सम्मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस जिलाध्यक्ष कुलबीर सिंह ने कहा कि संत शिरोमणी गोस्वामी तुलसीदास जी ने रामचरित मानस की रचना की है। जिसमें रामायण के सभी पात्र हमे जीवन जीने की कला बताता है। प्रभु श्रीरामचंद्र जी हमें सत्य और धर्म की राह पर चलने की सीख देता है। उनका संपूर्ण जीवन सत्य, प्रेम, त्याग और समर्पण की शिक्षा देता है। प्रभु की लीला अपरंपार है। इस कलयुग में राम नाम ही एक मात्र सहारा है। इस अवसर पर पार्षद मनीष साहू, महेश साहू, किसान कांग्रेस महामंत्री योगेन्द्र दास वैष्णव, आयोजन समिति के अध्यक्ष दिलीप साहू, उपाध्यक्ष पुरूषोतम साहू, शिव यादव, अशोक यादव, राजू साहू सहित आयोजन समिति के पदाधिकारी व बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *