अंवरी में सरपंच के भाई की दादागिरी, उजाड़ा पत्रकार का छप्पर

कुरूद संवाददाता  – खिलेश साहू

सरपंच के भाई ने भुनेश्वर साहू पत्रकार को जान से मारने की धमकी दी।

कुरूद- ग्राम अंवरी के सरपंच के भाई विष्णु राम साहू वल्द द्रोणाचार्य की दबंगई के चलते उसने अपने घर के सामने लगे विद्युत पोल को उखाड़ कर अपने पड़ोसी भुनेश्वर राम साहू पत्रकार के घर के सामने छप्पर को तोड़कर उसके घर के सामने गढ़ाने में लगा हुआ है। यह घटना 24 फरवरी दिन शनिवार की है। जिसके चलते सरपंच के भाई विष्णूराम साहू के समस्त परिवार द्वारा दादागिरी करते हुए भुनेश्वर साहू और उसके परिवार के साथ मारपीट किया। यही नहीं भुनेश्वर साहू द्वारा मना करने पर भी उसकी दबंगई ऐसी है कि वह उसे जान से मारने की धमकी दी है। इसके बाद विष्णुराम और उसके परिवार ने अपनी दादागिरी दिखाते हुए भुनेश्वर साहू के घर के छप्पर को शाम लगभग 5 बजे उजाड़ दिया। उक्त जानकारी भुनेश्वर साहू पत्रकार ने दी। आगे उन्होंने बताया कि इसकी शिकायत बिरेझर पुलिस द्वारा उन्हें कोई सहयोग नहीं मिला।
भुनेश्वर साहू पत्रकार ने बताया कि मेरा मकान कवेलुनुमा है।

मेरे दीवार से सटाकर विष्णुराम साहू वल्द द्रोणाचार्य साहू निवासी अंवरी अपने घर के सामने पूर्व से ही लगे हुए हटाकर मेरे घर के सामने चिपका कर लगाने के लिए जमीन में खुदाई करवा रहा है। थोड़ा हटाकर खुदाई करवाओ कहने पर उनके द्वारा मुझे और मेरे परिवार को मारपीट किया। 24 फरवरी दिन शनिवार को दोपहर 1 बजे के लगभग बिरेझर चौकी रिपोर्ट लिखाने गया और सिविल अस्पताल कुरूद डाक्टरी मुलाएजा के लिए भी गया था। बिरेझर चौकी में रिपोर्ट होने के बाद भी उनकी दबंगई कम नही हुई और शाम 5 बजे विष्णुराम और उनके परिवार के द्वारा कवेलू खप्पर बांस बल्ली आदि को तोड़कर उजाड़कर फेक दिया गया। आगे भुनेश्वर साहू ने बताया कि वह पुलिस में पुनः रिपोर्ट किया है। बिरेझर चौकी प्रभारी शोभा मंडावी ने बताया कि भुनेश्वर साहू के द्वारा रिपोर्ट किए जाने पर 294, 323,506 , 34 भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया। मैं कल सुबह घटनास्थल पर पहुंचकर जाकर देखती हुं। जिनके द्वारा तोड़फोड़ किया गया है उसकी धारा अलग से लगाई जाएगी और कार्यवाही किया जायेगा।विद्युत विभाग के अभियंता दिवाकर सिंह ध्रुव ने कहा कि विद्युत पोल को गड़ाने में आपत्ति का आवेदन लगा दो रोकवा दूंगा। पुनेश्वर साहू सरपंच अंवरी ने कहा कि दोनो पक्षों को बैठकर सुलह करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *