लापता छात्र की पड़ोसी ने ही हत्या कर जला दी थी लाश, प्रतापपुर में तनाव, क्राइम पेट्रोल व सीआईडी देख दिया वारदात को अंजाम…

सुरजपुर / प्रतापपुर –

पुलिस ने 2 आरोपियों को लिया हिरासत में, उग्र लोगों ने जमकर किया प्रदर्शन, आरोपियों व उसके रिश्तेदार के वाहनों में तोडफ़ोड़ कर लगाई आग, पुलिस ने संभाला मोर्चा प्रतापपुर. 29 जनवरी को प्रतापपुर स्थित अपने घर से लापता चौथी कक्षा के छात्र की उसके पड़ोसी ने ही अपहरण कर अपने एक दोस्त की मदद से हत्या कर दी थी। हत्या के बाद दरिंदों ने छात्र की लाश को बोरे में भरकर जंगल में जला दिया था। इसके बाद से वे नगरवासियों व पुलिस की गतिविधियों पर नजर रखे हुए थे। इस मामले में पुलिस ने शक के आधार पर छात्र के पड़ोसी को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गया और अपने दोस्त की मदद से हत्या कर शव जलाने की बात स्वीकार कर ली।

यह खबर रविवार को जैसे ही नगरवासियों को पता चली, लोग उग्र हो गए। उन्होंने आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग करते हुए जमकर प्रदर्शन किया। उग्र लोगों ने आरोपियों व उसके रिश्तेदार के कार, बाइक व पिकअप में तोडफ़ोड़ कर पिकअप को आग के हवाले कर दिया। तनाव की स्थिति को देखते हुए पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया है।

गौरतलब है कि प्रतापपुर नगर पंचायत के वार्ड क्रमांक 4 निवासी 11 वर्षीय रिशु कश्यप पिता अशोक कश्यप स्वामी आत्मानंद स्कूल में कक्षा 4थी में पढ़ता था। 29 जनवरी को स्कूल से वह घर लौटा और इसके बाद लापता हो गया। घरवालों ने उसकी खोजबीन शुरु की लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला।

फिर परिजनों ने थाने में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मामला दर्ज कर छात्र की खोजबीन शुरु की। छात्र के लापता होने के 10 दिन बाद भी उसका कहीं कोई सुराग नहीं लगा तो उसके परिजनों व नगरवासियों ने प्रदर्शन किया।

उन्होंने पुलिस को दो दिन का अल्टीमेटम भी दिया था। लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस की दर्जनभर से ज्यादा टीमें छात्र की खोजबीन में लगाई गईं।

लापता छात्र की पड़ोसी ने ही हत्या कर जला दी थी लाश, प्रतापपुर में तनाव, क्राइम पेट्रोल व सीआईडी देख दिया वारदात को अंजामपड़ोसी पर घूमी शक की सुई छात्र का कहीं पता नहीं चलने से जहां उसके परिजन किसी अनहोनी की आशंका से भयभीत थे, वहीं नगरवासियों का आक्रोश भी बढ़ता जा रहा था। 3 दिन पूर्व पुलिस ने शक के आधार पर छात्र के पड़ोसी युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु की।

कड़ाई से पूछताछ में वह टूट गया और छात्र की हत्या के बाद शव को जंगल में अपने दोस्त के साथ हत्या कर शव जलाने की बात स्वीकार कर ली। पुलिस हत्या के इस मामले का खुलासा सोमवार को करेगी।

सूत्रों के अनुसार विशेष टीम के एक पुलिसकर्मी ने मामले को सुलझाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। बताया जा रहा है कि मृत छात्र के पिता व आरोपी के बीच दुकान की बात को लेकर रंजिश थी।

सूत्रों के अनुसार आरोपी ने अपने दोस्त की मदद से 29 जनवरी की शाम छात्र रिशु को अपने पास बुलाया था। उसके दोस्त ने छात्र से जाकर कहा था कि वह बुला रहा है। जैसे ही छात्र वहां पहुंचा, मुख्य आरोपी उसे अपने साथ ले गया और हत्या कर शव बोरे में बांध दिया।

फिर दोनों आरोपी प्रतापपुर-राजपुर मार्ग पर स्थित ग्राम करसी के जंगल में ले जाकर छात्र का शव जला दिया। आरोपियों ने दूसरे दिन शव जलने के निशान को मिटाने उस स्थल पर पड़ी लकड़ी व अन्य चीजों को इधर-उधर बिखेर दिया था।

नगर में तनाव, वाहनों में तोडफ़ोड़ – मासूम छात्र की हत्या कर शव जलाने की खबर रविवार को जैसे ही नगरवासियों को पता चली, वे उग्र हो गए। आक्रोशित लोगों ने नगर में आरोपियों के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया और उन्हें फांसी देने की मांग करने लगे। इधर पुलिस ने मोर्चा संभाला और लोगों को शांत करने की कोशिश करते रहे।

लापता छात्र की पड़ोसी ने ही हत्या कर जला दी थी लाश, प्रतापपुर में तनाव, क्राइम पेट्रोल व सीआईडी देख दिया वारदात को अंजामपुलिस के आला अधिकारी भी प्रतापपुर पहुंचे थे। इसी बीच लोगों ने आरोपियों के घर के बाहर खड़ी कार, बाइक व पिकअप में तोडफ़ोड़ कर दी। देर शाम एक आरोपी के रिश्तेदार की पिकअप को उन्होंने आग के हवाले भी कर दिया। खबर लिखे जाने तक प्रतापपुर में तनाव की स्थिति बनी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *