बोर्ड एग्जाम की तैयारी में रखें इन 5 बातों का ध्यान, पढना होगा आसान…

बोर्ड परीक्षा की तैयारी करते समय बच्चे अनजाने ही अपने ऊपर प्रेशर डाल लेते है l उसपर अगर विज्ञान के छात्र हो तो ये प्रेशर और बढ़ जाता है, क्योंकि गणित और विज्ञान दो कठिन विषय में आते है l ऐसे में अक्सर देखा जाता है की प्रेशर की वजह से अच्छा पढने वाले बच्चे भी कम नंबर ला पाते है l ऐसा कई बच्चों से सुनने को मिलता है की परीक्षा हाल में सब भूल गए l टेंशन की वजह से जो आता था उसमे भी गलती कर बैठे l 

बोर्ड एग्जाम सर पर है l साल भर की तैयारी के बाद एग्जाम से कुछ दिन पहले का समय बहुत ही महत्वपूर्ण होता है l अच्छा प्रतिशत स्कोर करने के लिए कड़ी मेहनत के साथ स्मार्ट अध्ययन और रणनीतियां मुख्य भूमिका निभाती है l 

5 पॉइंट्स में जानिए कैसे करें बोर्ड एग्जाम की तैयारी –

लगातार घंटो बैठना जरुरी नहीं –

अक्सर माता पिता और शिक्षक बच्चों को लगातार पढने के लिए बाध्य करते है जिसकी वजह से बच्चों को भी लगने लगता है की जब तक वे लगातार घंटों पढाई नहीं करेंगे उनकी तैयारी नहीं होगी l जबकि ऐसा नहीं है l पढाई में भी क्वांटिटी की अपेक्षा क्वालिटी पर ध्यान देना ज्यादा जरुरी है l मतलब जरुरी नहीं आप लगातार 12 14 घंटे पढ़ें, जिनमे से आपके समझ और याद में केवल 1-2 घंटे की पढाई ही आये l बजाय इसके आप ब्रेक ले लेकर 2 – 3 घंटे पढ़ें और एकाग्रता बनाए रखें l  ब्रेक लेकर पढने पर आप बोरियत नहीं महसूस करते और थकान से भी बचते है l ब्रेक के दौरान आप अपने तरीके और पढने की प्रक्रिया पर विश्लेषण  भी कर सकते है l   

समझे अपने बायोलॉजिकल क्लॉक को – 

लम्बे समय से हमने अपने बड़ों से सुना है की सुबह जल्दी उठ कर पढना सबसे अच्छा होता है l लेकिन अब जाकर कुछ विशेषज्ञों से यह सुनने को मिल रहा है की यह सभी के लिए एक जैसा नही है l विज्ञान के अनुसार प्रत्येक छात्र की आंतरिक घड़ी (बायोलॉजिकल क्लॉक)  उसके अध्ययन के लिए सही समय तय करने में मदद करती है और यह सभी के लिए समान नहीं है। छात्र का सर्वोच्च प्रदर्शन उनके डीएनए में अंतर्निहित होता है l अपने बायोलॉजिकल क्लॉक को समझ कर अपने पढाई के लिए सही समय चुने l आप देर रात तक जाग कर पढने में ज्यादा अच्छा महसूस करते है और एकाग्र हो पाते है या सुबह 4 बजे उठ कर पढने में, यह आपसे बेहतर कोई नहीं समझ सकता l

कमज़ोर विषयों पर ज्यादा ध्यान दें –

अक्सर छात्र अपने कमज़ोर विषयों को छूना पसंद नहीं करते और अंत में ये विषय ही उनका प्रतिशत बिगड़ देते है l कुछ छात्रों को भौतिकी चुनौतीपूर्ण लग सकती है, जबकि अन्य को रसायन विज्ञान या जीव विज्ञान में कठिनाई होती है। प्रत्येक छात्र परीक्षा के दौरान अपने सबसे मजबूत क्षेत्रों को जानता है जिनमें वे अच्छे हैं, लेकिन अपनी कमज़ोर कड़ियों पर ध्यान नहीं देते है l ऐसी गलती ना करें l जिन विषयों पर आपकी पकड़ कमज़ोर है उन्हें गहराई तक खंगालें l कमियों के कारण को समझें l बेस क्लियर करें और बिन्दुवार तैयारी करें l इन विषयों को अधिक समय दें l youtube video के माध्यम से समझने का भी प्रयास कर सकते है l 

ऑनलाइन संसाधनों का उपयोग करें – 

कोरोना पीरियड के दौरान ऑनलाइन शिक्षा पहले से अधिक प्रचलित और आसान हो गई है l अब ऐसे कई प्लेटफार्म है जिनका उपयोग कर छात्र काफी अच्छी अध्ययन सामग्री एकत्र कर सकते हैं और इंटरैक्टिव वीडियो ट्यूटोरियल के द्वारा अपनी शंकाओं का समाधान कर सकते है l ऐसे इंटरैक्टिव संसाधन जटिल विषयों पर एक नया दृष्टिकोण प्रदान कर सकते हैं और सीखने को अधिक आकर्षक बना सकते हैं। छात्र अब इन प्लेटफार्मों के माध्यम से ऑनलाइन चर्चा मंच भी बना सकते हैं, जहां वे एक साथ अध्ययन और संशोधन कर सकते हैं।

एक रात पहले की तैयारी –

परीक्षा से एक रात पहले की तैयारी, परीक्षा हाल में आपके प्रदर्शन को प्रभावित करती है l आपके लगभग 10% अंक इस एक रात की तैयारी पर निर्भर करते है l एक रात पहले अच्छी नींद लेने से याददाश्त बनाए रखने में मदद मिल सकती है, साथ ही बाहरी घटनाओं के हस्तक्षेप से भी बचाव हो सकता है। यह देखा गया है कि जो छात्र नींद से वंचित हैं, उनमें पिछली जानकारी तक पहुंचने की क्षमता खो जाती है और मस्तिष्क में थके हुए न्यूरॉन्स के कारण नई जानकारी को संसाधित करने में अधिक समय लगता है। जितना संभव हो सके तनाव मुक्त रहें l पर्याप्त नींद ले l एक रात पहले यदि संभव हो तो सिर्फ हर टॉपिक के पॉइंट्स को रीवीजन कर लें l जरुरी पॉइंट्स याद रखने पर परीक्षा में उत्तर लिखना और टॉपिक को याद रखना काफी आसान हो जाता है l 

सबसे जरुरी बात अपने दिमाग से डर को हटा दें l इस बार पर विश्वास रखें की एक अंकसूची आपका भाग्य निर्धारित नहीं कर सकती l सकारात्मक विचार और दृष्टिकोण के साथ दिन की शुरुआत करें l प्रश्नपत्र पढ़ कर अतिउत्साहित या निराश ना हों l अपने आप को शांत बनाये रखें l 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *